Monday, February 26, 2018

तब से तुमसे प्यार किया है...

जब तुमने पहली बार 
मुझे देखा था 
उन झुकी हुई निगाहों से 
तब से तुमसे प्यार किया है 

जब तुम शरमा के 
भाग गई थी 
और चुपके से 
झरोखे से मुझे 
देख रही थी 
तब से तुमसे प्यार किया है

तुम्हारी पायल की 
वो आवाज़ आज भी 
कहीं कैद है 
इस दिल के किसी कोने में 
तब से तुमसे प्यार किया है

तुम्हारे लबों की वो हंसी 
आज भी... 
दिल को तसल्ली दे जाती है 
तब से तुमसे प्यार किया है

आज भी याद है 
वो पीला दुपट्टा तुम्हारा 
जिसके कोने से तुम 
खेल रही थी 
और चोर निगाहों से 
मुझे देख रही थी 
हाँ तब से तुमसे प्यार किया है!!

4 comments:

  1. Do you want to publish book, visit us: www.bookbazooka.com

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल बुधवार (28-02-2018) को ) "होली के ये रंग" (चर्चा अंक-2895) पर भी होगी।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    राधा तिवारी

    ReplyDelete
  3. मखमली अहसासों के साथ प्यारी रचना

    ReplyDelete
  4. बहुत बढ़िया

    ReplyDelete