Saturday, August 06, 2011

बोलो है कोई ऐसा रिश्ता.........

दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है एक ऐसा नाता है ,
जिसने एक दिल को दुसरे दिल से बंधा है|
दोस्ती का ये रिश्ता हर रिश्ते से ऊपर है,
ये तो एक ऐसा पवित्र बंधन है,
जो हर रिश्ते को पीछे छोड़ आया है,
आज भी हमें याद है वो बचपन के दिन,
जब हम साथ खेलते थे और लड़ते भी थे,
लेकिन आज भी हम उसी पवित्रता से एक दूजे के साथ हैं,
लाख झगड़े किये हमने लाख मनमुटाव हुए,
पर ये क्या कम है कि आज भी हम साथ हैं|
और हमारे दिल आज भी एक दूजे के लिए साफ़ हैं
बोलो है कोई ऐसा रिश्ता जो दोस्ती से पाक है ||

7 comments:

  1. बहुत दिनों के बाद रचना क्या कारण है ? सही कहा दोस्त से बढ़ कर कुछ नहीं . बधाई ...

    ReplyDelete
  2. बहुत प्यारी कविता ...हैप्पी फ्रेंडशिप डे

    ReplyDelete
  3. बहुत खूबसूरत अंदाज़ में पेश की गई है पोस्ट......मित्रता दिवस की शुभकामनायें।

    ReplyDelete

  4. दिनांक 25/01/2013 को आपकी यह पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपकी प्रतिक्रिया का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  5. बहुत -बहुत शुक्रिया यशवंत जी ...

    ReplyDelete
  6. सच, दोस्ती का रिश्ता बहुत सुन्दर रिश्ता है

    ReplyDelete
  7. बहुत ही गहरे और सुन्दर भावो को रचना में सजाया है आपने.....

    ReplyDelete